Computer Hardware Tech News कम्प्यूटर टिप्स

Computer खरीदते समय आपको यह जानना होगा कि आपकी जरूरत क्या है।

नया Computer खरीदने से पहले इन 8 बातो का ध्यान रखे

कंप्यूटर खरीदते समय आपको यह जानना होगा कि आपकी जरूरत क्या है। आप उस जरूरत के हिसाब से कौन सी टेक्निक का कंप्यूटर खरीदना चाहते हैं। इसके लिए आपको कुछ टिप्स दिए जा रहे हैं। जो आपको इन सब बिंदुओं पर आपकी मदद करेगा। आपको यह समझना होगा कि, कंप्यूटर में किस पार्ट्स की क्या भूमिका है।

How to Buy a New Computer Tips in Hindi

New Computer के Processor speed के बारे में जानें

cpu, computer processor type

प्रोसेसर सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट के दिमाग की तरह होता है। प्रोसेसर की स्पीड मेगा या फिर गीगाहर्ट्ज़ में मापी जाती है। साथ ही  इसके विभिन्न जेनरेशन भी बाजार में उपलब्ध होते हैं। जैसे P-I,P-II,P-III, P4, DUAL CORE, CORE 2 DUO, i3,i5,i7 आज के टाइम में P-I से लेकर P4 तक के कंप्यूटर की मांग बिल्कुल खत्म हो चुकी है। अब इस से भी एडवांस टेक्नोलॉजी उपलब्ध है।  इस समय बाजार में सबसे लेटेस्ट प्रोसेसर i7 है। जो कि बाजार में उपलब्ध है। प्रोसेसर की स्पीड कंप्यूटर के स्पीड को दर्शाते हैं। प्रोसेसर  जितना तेज़ होगा कंप्यूटर की परफॉर्मेंस उतनी ही बढ़िया होगी। इसलिए प्रोसेसर  खरीदते समय इन बातों का ध्यान रखें।

  • Dual Core – अगर आप generally home use के लिए new computer लेना चाहते है तो यह आपके लिए best option होगा.
  • i3 Processor – आप यदि home के साथ साथ office के भी work करना चाहते है and कुछ high end multimedia software like photoshop,coreldra etc use करना चाहते है तो यह आपके लिए best होगा.
  • i5 Processor –आप यही home में gaming का मजा लेना चाहते है and High quality game, videos and software use करना चाहते है तो यह option best होगा.
  • i7 Processor – professional work के लिए यह एक best option है.

नया कंप्यूटर लेते समय Motherboard को नजरअंदाज न करे

motherboard buying tips

मदरबोर्ड कंप्यूटर का मेन बोर्ड होता है। जिस पर लगने वाले दूसरे सभी डिवाइसेस कनेक्ट होते हैं। प्रोसेसर की स्पीड के अनुसार ही इसका भी चयन किया जाता है। वर्तमान समय में Dual core, core 2 Duo,  i3,i5,i7 के प्रोसेसर के साथ इंटर चिपसेट के मदरबोर्ड इस्तेमाल होते हैं।  यह हमें मदर बोर्ड  खरीदने से पहले ही सोचना होगा कि, हमें उस मदरबोर्ड पर कितनी स्पीड का कौन सा प्रोसेसर काम में लेना है।

RAM को ध्यान से चुनें

random access memory

रैंडम एक्सेस मेमोरी जहां आपके प्रोग्राम रहते हैं या चलते हैं। हार्ड डिस्क  में लिखी गई सूचनाओं को यदि प्रोसेसर को प्रोसेस करना है तो, सबसे पहले वह सभी सूचनाओं को  इसी मेमोरी में ट्रांसफर की जाती है। उसके बाद ही प्रोसेसर के द्वारा यह सूचना प्रोसेस की जा सकती है। इसलिए यह जरूरी हो जाता है कि मेमोरी  उपयोग में लिए जाने वाले प्रोग्राम या फिर सॉफ्टवेयर के लिए सही हो। वर्तमान समय में मेमोरी की कम से कम आवश्यकता 2gb है।

  • 2 GB RAM – Normally use for dual core etc.
  • 4 GB RAM – Medium use के लिए best होगा,आप I5 and I3 के साथ use कर सकते है.
  • 8 GB RAM – Professional use के लिए अच्छा option होगा.

अपनी Requirement के अनुसार हार्ड डिस्क चयन करे

अपनी Requirement के अनुसार हार्ड डिस्क चयन करे 

ड्राइव  वो पार्ट्स होता है जहां पर कंप्यूटर में प्रोग्राम और आपका डाटा जो कि समय समय पर काम में लिया  या लिखा  जाएगा।  यह भी एक तरह से मेमोरी का ही भाग होता है। लेकिन इसमें लिखी गई सूचनाएं एक बार लिखने के बाद हमेशा स्टोर  रहती हैं। जबकि रैम  में लिखी गई सूचनाएं कंप्यूटर के ऑफ होते ही खत्म हो जाती हैं। वर्तमान समय में हार्ड डिस्क कम से कम 80 GB की बाजार  में पाई जाती हैं।

मॉडेम

मॉडेम  का संबंध भी सिस्टम की स्पीड से होता है। आजकल दसमी पीएस के मॉडेम बाजार में सर्वाधिक प्रचलन में है। यहां 10 Mbps का मतलब समान परिस्थितियों में 10485760 मिनट प्रति सेकंड डाटा को ट्रांसफर करने से है।  स्पीड की निर्भरता इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर द्वारा दी जा रही स्पीड पर भी निर्भर करती है।

साउंड

आज के कंप्यूटर बाजार में सभी कंप्यूटर साउंड के सिस्टम के साथ आते हैं। यह कंप्यूटर खरीदने वाले की जरूरत पर निर्भर करता है कि उसे कितने वात  की साउंड आउटपुट चाहिए।

DVD ड्राइव

डीवीडी ड्राइव आज के युग के कंप्यूटर में नितांत आवश्यक हो गई है क्योंकि सॉफ्टवेयर निर्माता आजकल सभी सॉफ्टवेयर डीवीडी में ही उपलब्ध कराते हैं आजकल डीवीडी ड्राइव की स्पीड 52 एक्सप्रेस चैनल में है यह कंप्यूटर खरीदने वाले पर निर्भर करता है.

मॉनिटर

आज के समय में कई तरह के मॉनिटर बाजार में उपलब्ध है। यह कंप्यूटर खरीदने वाले के बजट पर निर्भर करता है कि वह किस साइज मॉनिटर अपने कार्य के लिए उपयुक्त पाता है। वर्तमान समय में 15 Inch से लेकर 17 इंच तक के कलर मॉनिटर  बाजार में उपलब्ध है। लेकिन क्योंकि 15″17″ के इन के मूल्य में बहुत ज्यादा अंतर नहीं है। इसलिए बाजार में 17 इंच  के मॉनिटर  ज्यादा प्रचलन में है।

कीबोर्ड

कंप्यूटर में यूजर के द्वारा  सबसे अधिक काम में आने वाली डिवाइस है।  यह यूजर पर निर्भर करता है कि, वह कितने किज  का कीबोर्ड काम में लेना चाहता है। सामान्य तौर पर 121 किज  के कीबोर्ड बाजार में प्रचलन में है।

प्रिंटर

प्रिंटर यह कंप्यूटर के उपयोग कर्ता पर निर्भर करता है कि किए गए काम का प्रिंट आउट पुट कैसा चाहिए। कलर या फिर ब्लैक एंड वाइट। वर्तमान समय में क्युकी  कंप्यूटर के ग्राफिक संबंधित कार्य भी बहुत ज्यादा किए जाते हैं। इसलिए कम मूल्य में आने वाले इंकजेट प्रिंटर जोकि कलर भी होते हैं। बहुत ज्यादा बाजार में प्रचलित हैं।

स्केनर

यह कंप्यूटर के उपयोग कर्ता पर निर्भर करता है कि क्या उपभोक्ता को इमेज या फिर फोटो को स्कैन कर उपयोग में लेना है तो इसके लिए स्कैनर की  आवश्यकता पड़ेगी। बाजार में फ्लैट बेड स्केनर बहुत ज्यादा प्रचलित है।

सॉफ्टवेयर Mac OS, Windows, or Linux !

सामान्य तौर पर एक कंप्यूटर में निंलिखित सॉफ्टवेयर वर्तमान समय में काम करने के लिए जरूरी होते हैं। इस विंडोज एमएस ऑफिस Photoshop, कोरल ड्रा, ऑटोकैड, 3D Max, Winzip, एडोब रीडर इत्यादि कंप्यूटर खरीदते समय हमें यह जरूर ध्यान रखना चाहिए कि वायरस से प्रोटेक्शन  के लिए कौन सा साधन उपयोग में लाएंगे।

About the author

chip-level

I develop websites and content for websites related to high tech from around the world. See more pages and content about technology such as Computer and other IT developments around the world. You can follow the other websites as well and search this website for more information on mobile phones and other any components.

5 Comments

Leave a Comment