Careers In Computer Engineering

 कंप्यूटर के क्षेत्र में संभावनाएं | कंप्यूटर में रोजगार के अवसर :जैसा कि पिछले पोस्ट में  बताया गया है कंप्यूटर के विभिन्न क्षेत्रों में उपयोगिता को देखते हुए हम यह कह सकते हैं कि इस क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाएं है। (Careers In Computer Engineering)

मुख्य रूप से कंप्यूटर के क्षेत्र में दो तरह के रोजगार हो सकते हैं ,

 

  • एक सॉफ्टवेयर के क्षेत्र में और 
  • दूसरा हार्डवेयर के क्षेत्र में 

यहां यह जानना बहुत ही आवश्यक है कि सॉफ्टवेयर हार्डवेयर क्या होता है?  मोटे तौर पर हम कह सकते हैं कि जिसकी कोई भौतिक आकृति (आंखें देख नहीं सकती ) नहीं होती। 

जैसे एक CD यदि अमिताभ बच्चन की पिक्चर है तो हम cd को चलाकर पिक्चर में अमिताभ बच्चन को देख  सकते हैं। लेकिन छूकर महसूस नहीं कर सकते यह जो कुछ पिक्चर के रूप में सीडी में लिखा गया है। यह सॉफ्टवेयर की श्रेणी में आता है। इसलिए जिसे हम छू नहीं सकते अथवा हर जिसकी कोई भौतिक आकृति  नहीं होती वो सॉफ्टवेयर की  श्रेणी में आते हैं। जिन्हे हम छूकर  महसूस कर सकते हैं या जिसकी कोई आकृति होती है। वो  सब हार्डवेयर की श्रेणी में आता है। 

Careers In Computer Engineering
Careers In Computer Engineering

यहां कुछ हार्डवेयर क्षेत्र में रोजगार की संभावना पर प्रकाश डालेंगे। Careers In Computer Engineering

जोकी  उदाहरण के रूप में निम्न प्रकार से हो सकते हैं।

  • कंप्यूटर असेंबलिंग के क्षेत्र में। (कंप्यूटर असेंबल) 
  • कंप्यूटर इंस्टॉलेशन के क्षेत्र में। (कंप्यूटर सॉफ्टवेयर एंड कंप्यूटर इंस्टॉलेशन)
  • कंप्यूटर सर्विस इंजीनियर के क्षेत्र में। (सर्विस इंजीनियर) 
  • कंप्यूटर हार्डवेयर मेंटेनेंस के क्षेत्र में। (हार्डवेयर इंजीनियर) 
  • मैनुफैक्चरिंग के साथ में। (मैनुफैक्चरिंग इंजीनियर) 
  • कंप्यूटर रिसर्च एंड डेवलपमेंट के क्षेत्र में। 
  • इंजीनियर कंप्यूटर क्वालिटी कंट्रोल इंजीनियर के क्षेत्र में। 
  • कंप्यूटर नेटवर्किंग के क्षेत्र में। 
  • प्रोसेस कंट्रोल डिवाइस के क्षेत्र में। 

इसके अलावा भी अन्य बहुत से फील्ड  हैं जिनमें  योग्य व्यक्तियों के लिए रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। आज के जमाने में कंप्यूटर क्षेत्र के चरणबद्ध विकास के चलते कंप्यूटर का आकार समय के अनुसार बहुत छोटा होता जा रहा है और इसकी गति और उपलब्ध उपयोगिता दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। 

एक नया कंप्यूटर खरीदना

वर्तमान में यदि हमे एक नया कंप्यूटर खरीदना हो तो यह  बहुत ही महत्वपूर्ण हो जाता है कि हमें आज के कंप्यूटर  के विभिन्न स्टैण्डर्ड  एवं बाजार की पूर्ण जानकारी हो। तो  सबसे पहले हमें निर्धारित करना होता है कि हमारी कंप्यूटर की उपयोगिता के लिए आवश्यकता क्या है। इसके लिए हमें निर्धारित करना होगा की हमें  कौन-कौन से सॉफ्टवेयर कितने स्पेस प्रोग्राम एक्सेसरीज की आवश्यकता कंप्यूटर पर होगी। यदि हमें कंप्यूटर को हमारा ज्ञान बढ़ाने के लिए, इंटरनेट से  संबंधित जानकारियों को संग्रहित करने के लिए कंप्यूटर खरीदना है, या हमें मल्टीमीडिया के विभिन्न सुविधाओं का उपयोग करना है। तो इस तरह की कुछ निर्णय हमें सर्वप्रथम निर्धारित करने होंगे। जिनके आधार पर  कंप्यूटर के अन्य माप दंड  निर्धारित किये  जा सकते हैं। 

आज के युग में यह भी महत्वपूर्ण है कि, हम जो कंप्यूटर खरीदना  चाहते हैं वह घर पर एक जगह रखने के लिए होगा अथवा हम उसे अपने साथ रख कर आवश्यकतानुसार विभिन्न स्थानों पर इस्तेमाल करेंगे। इससे यह निर्धारित होगा कि कंप्यूटर डेस्कटॉप खरीदा जाए अथवा लैपटॉप। आज के जमाने में कंप्यूटर में Store किए जाने वाला प्रोग्राम सॉफ्टवेयर डेटा के साइज को देखते हुए कम से कम से कम 250 जीबी  मुख्य रूप से काम में ली जाती है। मेमोरी के लिए आज के स्टैंडर्ड में कम से कम 4 जीबी रैम ठीक रहती है। कंप्यूटर की स्पीड वीडियो एडिटिंग और उसकी उपयोगिता को देखते हुए हम कम से कम 3 गीगाहर्ट्ज होनी।

किस तरह का कंप्यूटर ख़रीदे यह सवाल हर कंप्यूटर को खरीदने वाले के दिमाग में आता है।  डेस्कटॉप ख़रीदे या लैपटॉप। 
सबसे पहले इस बात को आपको समझना होगा की आप कंप्यूटर किस काम के लिए ले रहे है। उससे क्या काम करना चाहते है। और उसके कम से कम requirement क्या है।  

इसके लिए पढ़े कंप्यूटर खरीदते या असेंबल करते समय किन बिन्दुओ को ध्यान में रखना चाहिए। 

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here