Menu

Aadhar Card Detail Information in hindi : आधार कार्ड की जानकारी

Aadhar Card Detail Information in hindi : भारत में व्यक्ति के पहचान के प्रमाण के रूप में बहुत से दस्तावेज चलन में है। जिनमे वोटर आईडी (मतदाता पहचान पत्र), ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, पासपोर्ट इत्यादि। इन सभी पहचान पत्रों के अपने अपने मापदंड सुनिश्चित है। आधार कार्ड व्यक्ति का परिचय पत्र है। और हर जगह इसको मान्यता दी गई है।  हालांकि मतदाता पहचान पत्र भी मान्य है, परन्तु यह कार्ड उन्ही लोगो का बनता है जिनकी उम्र 18 वर्ष या उससे ज्यादा होती है।  वही Aadhar Card हर उम्र के व्यक्ति के लिए बनाई जाती है।  जानिये आधार कार्ड से जुडी कुछ खास जानकारी।  

Aadhar Card Detail Information in hindi : आधार कार्ड विवरण जानकारी

आधार कार्ड क्या है? (What is Aadhar card in hindi)

आधार कार्ड एक परिचय पत्र है. जो भारत सरकार हर भारतीय व्यक्ति के लिए जारी करती है।  यह कार्ड भारत में कही भी, आदमी की पहचान और उसके पते का  प्रमाण होता है।  अद्धर कार्ड के ऊपर 12 अंको का एक विशिष्ट संख्या दर्ज होती है। जिसको भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (भा.वि.प.प्रा.) जारी करता है।

भारतीय डाक द्वारा या यू.आई.डी.ए.आई की वेबसाइट से डाउनलोड / प्रिंट Aadhar Card  की मान्यता सामान होती है।  आधार कार्ड के लिए भारत का कोई भी नागरिक नामांकन कर सकता है। इस नामांकन के लिए कोई आयु सीमा निर्धारित नहीं है किसी भी उम्र का भारतीय नागरिक इसके लिए पात्र होता है।  बशर्ते वह  यू.आई.डी.ए.आई की सत्यापन प्रक्रिया को पूरा करता हो। यह  आधार कार्ड पूरी तरह से निशुल्क रूप से बनता है। 

आधार कार्ड बनाते समय व्यक्ति के बायो पहचान जैसे हाथों की सभी उँगलियों के निशान, आँखों की स्कैनिंग, और फोटो इस पहचान पत्र में जोड़ा जाता है।  जिससे आधार कार्ड भारत में कही भी दुबारा नहीं बन सकता।  यह पहचान पत्र पुरे भारत में कही भी मान्य है। आधार कार्ड सिर्फ आम आदमी की पहचान है, लेकिन यह भारत के नागरिकता की पहचान के लिए मान्य नहीं है। 

आधार कार्ड बनवाने का उद्देश्य (Aadhar card aim)

आधार कार्ड का उद्देश्य व्यक्ति के पहचान के लिए है। आधार कार्ड के द्वारा किसी भी व्यक्ति की सही जानकारी आसानी से पता चल सकती है।  इससे पहले व्यक्ति के कई पहचान पत्र होने के कारण उनसे होने वाले गड़बड़ी को इससे काफी हद तक ख़त्म किया सा सकता है।  

  • सरकारी योजना का पूर्ण लाभ आम नागरिक को मिल सके। 
  • मोबाइल इत्यादि के दुरूपयोग को रोका जा सके। 

आधार कार्ड का बनवाने की प्रक्रिया (Aadhar card step  )

UIDAi भारत में Aadhar Card को बनाने और उसका प्रबंधन करने वाली संस्था है।  आधार कार्ड बनवाने के लिए व्यक्ति को कुछ मान्य दस्तावेज जिनसे उसके पते, उम्र का प्रमाण साबित हो देना होता है।  जिनमे वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, बिजली बिल इत्यादि शामिल हो सकते है। उसके बाद UIDAi से सर्वर पर व्यक्ति की सभी जरुरी जानकारी भर कर उसके बायोमेट्रिक जानकारी जिनमे फिंगर प्रिंट्स और  आँखों की प्रिंट आदि भरे जाते है। 

इसके बाद इस सभी इनफार्मेशन को UIDAi के सुरक्षित डाटा बेस में सुरक्षित कर दिया जाता है जिसके बाद उस व्यक्ति का यूनिक 12 अंको का  आइडेंटिफिकेशन नंबर जनरेट हो जाता है।  जिसे आधार कार्ड संख्या कहा जाता है।  UIDAi के डाटा बेस में इस नंबर की सभी जानकारी सुरक्षित रहती है। जिससे किसी भी आदमी  की पहचान और जानकारी कुछ ही समय में पता की जा सकती है।   

आधार कार्ड के लिए जरुरी कागजात  (Document Required for Aadhaar Card):

नीचे देखे आधार के लिए आवश्यक दस्तावेज़ों के रूप में उपयोग 

  • जिस व्यक्ति का आधार बनना है। 
  • उसको आधार कार्ड कैंप में होना अनिवार्य है। 
  • क्यूंकि उसके बायोमेट्रिक विवरण को मशीनों के द्वारा स्कैन किया जाता है। 

आधार कार्ड के लिए आँखों की पुतली की छवि लेने का यंत्र

आधार कार्ड के लिए आँखों की पुतली की छवि लेने का यंत्र

आधार कार्ड के लिए आँखों की पुतली की छवि देते हुए एक महिला

 

आधार कार्ड के लिए आँखों की पुतली की छवि देते हुए एक महिला
 

आधार कार्ड के लिए अंगुलियों के निशान लेने का यंत्र 

 

आधार कार्ड के लिए अंगुलियों के निशान लेने का यंत्र

आधार कार्ड के लिए अंगुलियों के निशान देते हुए

आधार कार्ड के लिए अंगुलियों के निशान देते हुए
 

अब इसके बाद दस्तावेजों में चाहिए होगा :

  1. आयु प्रमाण पत्र
  2. परिचय पत्र
  3. आवासीय प्रमाण पत्र
  4. विवाह प्रमाण पत्र
  5. पासपोर्ट
  6. ड्राइविंग लाइसेंस
  7. सरकार द्वारा जारी परिचय पत्र
  8. जन्म प्रमाण पत्र
  9. SSCL प्रमाण पत्र
  10. पैन कार्ड
  11. वोटर कार्ड

ऊपर लिखे डॉक्यूमेंट में किसी एक का होना जरुरी होता है जो आयु और घर के पते की पुष्टि करते हो। 

आधार कार्ड की विशेषताएँ क्या है (Aadhar card features)इसकी प्रमुख विशेषतायें इस प्रकार हैं  

  • आधार कार्ड में  व्यक्ति के आयु, घर का पता और शारीरक विवरण दर्ज होती है।  जो इसको अन्य सभी पहचान पत्र से अलग करता है। 
  • आधार कार्ड नवजात शिशु और बच्चो के लिए भी बनाया जाता है। 
  • आधार कार्ड को भारत के किसी भी स्थान पर पहचान पत्र के रूप में उपयोग किया जा सकता है। 
  • आधार कार्ड के द्वारा बैंक खाता खोलना, मोबाइल सिम लेना और सरकारी योजना जैसे एलपीजी सब्सिडी आदि का लाभ लिया जा सकता है। 
  • यूआईडीएआई के केंद्रीकृत प्रोद्धोगिकी अवसंरचना आधार कार्ड के ‘कभी भी, कहीं भी, किसी भी तरह’ के प्रमाणीकरण को सक्षम कर सकती है.
  • Aadhar card से  प्रवासियों की गतिशीलता की  पहचान करना आसान होगा। 
  • आधार कार्ड में कभी भी ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी तरह के बदलाब जैसे : नाम, पता, मोबाइल नंबर, जन्म तिथि आदि किये जा सकते है। 
  • इसमें अद्वितीय नंबर, अद्वितीय आईडी होती है, जोकि हर एक की अलग अलग होती है.
  • आधार कार्ड में व्यक्ति के बायोमेट्रिक जानकारी और निजी जानकारी कही भी उपलब्ध हो जाएगी। 

कहाँ होगा उपयोग आधार कार्ड की उपयोगिता (Aadhar card importance)

इससे किसी भी बैंक में खाता खोलने के लिए यह उपयोग किया जा सकता है।  यहाँ पढ़ें. अपने आधार नम्बर को अपने बैंक खाते में कैसे जोड़े  

  1. इसके द्वारा नया मोबाइल कनेक्शन लिया जा सकता है। 
  2. Aadhar Number से नया एलपीजी सिलेंडर बुकिंग करना आसान एलपीजी सब्सिडी सीधे लाभ। 
  3. नया पासपोर्ट अप्लाई करने और वेरिफिकेशन में सहायक। 
  4. इससे पैन कार्ड बनने में आसानी। 
  5. आईआरसीटीसी टिकट बुकिंग  रेलवे, हवाई यात्रा के दौरान प्रमाण पत्र के रूप में इस्तेमाल। 
  6. इसके साथ  आधार कार्ड को कई डॉक्यूमेंट  के साथ भी जोड़ा जा सकता है. 
  7. आधार कार्ड को वोटर आईडी, पैन कार्ड, पासपोर्ट, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, टिकट  बुकिंग, EPF चेक और सिम के साथ लिंक की जा सकती हैं.
  8. पासपोर्ट बनवाने के लिए अब Aadhar card  का होना अनिवार्य है।
  9. जनधन खाता बिना इसके नहीं खोला जा सकता है। 
  10. एलपीजी की सबसीडी लेने  के लिये आधार  जरुरी 
  11. परीक्षाओं में बैठने के यह अनिवार्य (जैसे आईआईटी जेईई के लिये)
  12. बच्चों को नर्सरी कक्षा में एडमिशन के लिये
  13. डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र (लाइफ सर्टिफिकेट) के लिए आधार जरूरी
  14. बिना Aadhar Card के नहीं मिलेगा प्रविडेंट फंड
  15. डिजिटल लॉकर के लिए आधार जरूरी
  16. सम्पत्ति के रजिस्ट्रेशन के लिए भी Aadhar card जरूरी कर दिया गया है।
  17. छात्रों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति भी Aadhar card के जरिए ही उनके बैंक में जमा करवाई जाएगी।
  18. आयकर रिटर्न

आधार कार्ड के लाभ (Aadhar card benefits)

  • आधार संख्या प्रत्येक व्यक्ति की जीवनभर की पहचान है।
  • आधार संख्या से आपको बैंकिंग, मोबाईल फोन कनेक्शन और सरकारी व गैर-सरकारी सेवाओं की सुविधाएं प्राप्त करने में सुविधा होगी।
  • किफायती तरीके व सरलता से ऑनलाइन विधि से सत्यापन योग्य।
  • सरकारी एवं निजी डाटाबेस में से डुप्लिेकेट एवं नकली पहचान को बड़ी संख्या में समाप्त करने में अनूठा एव ठोस प्रयास।
  • एक क्रम-रहित (रैण्डम) उत्पन्न संख्या जो किसी भी जाति, पंथ, मजहब एवं भौगोलिक क्षेत्र आदि के वर्गीकरण पर आधारित नहीं है।
  • व्यक्ति के पहचान सत्यापित करने में Aadhar Card की मत्वपूर्ण भूमिका होने के कारण पासपोर्ट जारी करने में आसानी होती है। जिससे पासपोर्ट जारी होने में समय की बचत होती है। 
  • Aadhar card होने से देश की गरीब और पिछड़े वर्गो को सरकारी लाभ देने में लाभ होगा।  सरकारी योजनाओ का फायदा सीधे तौर मिलेगा। 
  • इससे बिचोलियो की भूमिका ख़त्म होने में लाभ होगा। 

आधार नंबर क्या है (What is Aadhar card number)

Aadhar Number 12 अंको की एक संख्या हैं. वही भारत के नागरिक होने का सबूत हैं जिसके जरिये व्यक्ति की डेमोग्राफिक एवम बायोग्राफिक तरीके से सत्यापित होने का प्रमाण मिलता हैं. यह उस व्यक्ति की भी पूरी जानकारी रखता है जिसे पर मामला चल रहा हो.

आधार संख्या का फोर्मेट (Aadhar card number format)

जब किसी व्यक्ति को आधार संख्या सौंपी जाती है तो उन्हें 12 अंकों का नंबर दिया जाता है. इस नंबर में 12 अंक होते है ताकि 100 अरब लोगों की पहचान को विभिन्न संख्याओं के तहत जमा किया जा सके. ये 100 अरब पहचान आधार संख्या के शुरुआत के 11 अंकों द्वारा प्रदान किये गये है और आखिरी अंक डेटा प्रवृष्टि में त्रुटियों को रोकने में मदद करने के लिए एक चेक अंक के रूप में होता है.

आधार कार्ड में मौजूद जानकारी (Aadhar card information)

Aadhar Card में व्यक्ति के निम्न विवरण शामिल होते हैं

  1. व्यक्ति का नाम
  2. आधार संख्या
  3. नामांकन संख्या
  4. एक फोटो
  5. रिकॉर्ड के अनुसार व्यक्ति का पता
  6. व्यक्ति की जन्मतिथि
  7. व्यक्ति का लिंग
  8. एक बार कोड जो आधार संख्या का प्रतिनिधित्व करता है.

आधार कार्ड और आधार संख्या (Aadhar card and Aadhaar number)

Aadhar Card एक आम आदमी की पहचान है।  हर व्यक्ति जिन्होंने अपना नामांकन udai  में करवा रखा है उन्हें एक यूनिक आइडेंटिटी नंबर मिलता है।  प्रिंट कार्ड न भी हो  यह १२ अंको की संख्या याद होने से उसे दुबारा से ऑनलाइन प्रिंट और डाउनलोड किया जा सकता है ।  आधार कार्ड को डाउनलोड प्रिंट व स्टेटस चेक करने का तरीका बहुत आसान हैं और साथ Aadhar Card डाउनलोड भी किया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *