Menu

what is a motherboard in hindi Definition & Diagram, मदरबोर्ड डायग्राम

what is a motherboard in hindi Definition & Diagram  अगर आपके कंप्यूटर में मदर बोर्ड में कोई खराबी हो गई है या आप मदर बोर्ड को बदलना चाहते है।  तो मदर बोर्ड का डायग्राम इसमें आपकी काफी मदद कर सकता है।  इसके साथ आपको इस  डायग्राम के जरिये मदर बोर्ड को अच्छे से समझ सकते है।  जिससे आपकी जानकारी अच्छी हो जाएगी।   चाहें तो मदरबोर्ड या छोटी बड़ी समस्या का  निवारण  भी आसानी से कर सकते है।

ब्रांडेड और असेम्ब्लेड कंप्यूटर में अंतर: Difference between branded and assembled computer

what is a motherboard in hindi Definition & Diagram

यह मदरबोर्ड डायग्राम के जरिये आपको मदरबोर्ड के हर हिस्से, वर्किंग कहा कैसे इसका उपयोग होता है सब की जानकारी आसानी से मिल जाती है ।  मदरबोर्ड को रिपेयर करने से लेकर उसको बदलने तक का काम इससे काफी आसान हो जाता है। आज के जमाने में विभिन्न तरह के मदरबोर्ड आते रहते है।

लेकिन सब का लेआउट थोड़ा भिन्न जरूर हो सकता है लेकिन काम करने का तरीका और उसमे लगने वाले प[आर्ट्स लगभग एक जैसे ही होते है।  अगर आपको यह जानकरी हो जाए की कंप्यूटर में कौन  सा  पार्ट्स कहा कैसे लगाया जाता है।  तो आप बिना किसी परेशानी के एक नया कंप्यूटर अस्सेम्ब्ल कर सकते है।

जिसके लिए आपको मदरबोर्ड के लेआउट और डायग्राम को समझना होगा।  क्यूंकि मदरबोर्ड ही कंप्यूटर का वो महत्वपूर्ण पार्ट्स है।  जिसमे सभी हिस्से  जोड़े जाते है।  यहाँ आपको मदरबोर्ड के डायग्राम के साथ उसमे सभी पोर्ट की जानकरी देने का हर संभव कोसिस कर रहा हूँ।  फिर भी यदि आपको लगता है की कुछ कमी है तो आप कमेंट करके इसकी जानकरी दे सकते है।

यहाँ  Asus P5N32-E एसएलआई मदरबोर्ड के बारे में बताऊंगा। हलाकि  सभी बोर्ड थोड़ा अलग होते है,  और उनमे लगने वाले घटकों की संख्या कम या ज्यादा हो सकती है। लेकिन सभी की वोर्किन एक जैसे होती है।

एक कंप्यूटर मदरबोर्ड का डायग्राम – Motherboard Diagram in hindi

What is a Motherboard? Definition & Diagram, मदरबोर्ड डायग्राम

मदरबोर्ड के इस डायग्राम के जरिये आपको यह पता चल जायेगा की मदरबोर्ड में कोनसा पार्ट्स कहा जोड़ा जाता है।  और इनका काम क्या होता है।  साथ ही कोनसी समस्या पर कोण सा पार्ट्स या सेक्शन जिम्मेदार हो सकता है। साथ ही motherboard diagram, motherboard को बदलने, अपग्रेड करने, किसी समस्या के समाधान ढूढ़ने में और एक नया कंप्यूटर बनाने में काफी मददगार साबित होता है।

कंप्यूटर के अनिवार्य पार्ट्स Most Important parts of computer

(A computer motherboard diagram is very useful for when you need to replace motherboard, do motherboard upgrades, troubleshoot motherboard, or build your own computer.)

introduction of motherboard in hindi

A.  PCI Slot (पीसीआई स्लॉट)

– इस बोर्ड में 2 पीसीआई स्लॉट हैं ये ईथरनेट कार्ड, साउंड कार्ड और मॉडेम जैसी घटकों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। हलाकि लेटेस्ट motherboard में ये सारे कार्ड इनबिल्ड लगे होते है।  लेकिन यदि आपको एक से ज्यादा lancard, usb port या फिर किसी बाहरी उपकरण को कंप्यूटर से पीसीआई कार्ड के जरिये जोड़ा जा सकता। 

motherboard Pci Slots
motherboard Pci Slots

आजकल आने वाले ज्यादातर i series  के motherboard में पीसीआई स्लॉट को निकाल दिया गया है।  इसके जगह दूसरे स्लॉट को लगाया जाता है। 

B. PCI-E 16x Slot पीसीआई-ई 16x स्लॉट- 

इस मदरबोर्ड  के लेआउट में  PCI-E 16x Slot 2 हैं, दोनों नीले हैं। ये कंप्यूटर में  ग्राफिक्स कार्ड के लिए उपयोग किया जाता है  आप एसएलआई में 2 ग्राफिक्स कार्ड चला सकते हैं। यदि आप एक गेमर हैं, या high end video / graphics editing के साथ काम करते हैं, तो आपको इसकी आवश्यकता होगी। ये  16x speed versions हैं, जो अपने जमाने के  सबसे तेज़ थे । हालांकि अब इनकी जगाय एक्सप्रेस स्लॉट ने ले ली है।  फिर भी बहुत से ऐसे कंप्यूटर या मदर बोर्ड आपको मिल जायेगे जिनमे यह अब भी काम करते है।

C. PCI-E 1x स्लॉट –

Single slot पीसीआई 1.x generation में , हर एक लेन  (1x) में पीसीआई  स्लॉट्स के 133 MB/s मुकाबले में 250 MB/s  कैरी करते  है। यानी पीसीआई स्लॉट से यह फ़ास्ट होते है।  इसका इस्तेमाल  साउंड  कार्ड, या ईथरनेट कार्ड के लिए किया जा सकता है।

D. North Brigde  

नॉर्थब्रिज – यह इस मदरबोर्ड के लिए  ब्रिज की तरह काम करता है।  यह CPU और सिस्टम मेमोरी और पीसीआई-ई स्लॉट्स के बीच संचार की अनुमति देता है।

E. ATX 12V 2X and 4 Pin Power Connection   –

यह  Motherboard में बिजली सप्लाई के लिए इस्तेमाल होता है।  इसमें ४ पिन कनेक्टर होते है।  जिसमे दो पिन ग्राउंड और २ पीने में पावर सप्लाई से १२ वाल्ट मदर बोर्ड को दिए जाते है। जो  Motherboard के पावर सेक्शन को मिलते है।  अगर यह सेक्शन काम न करे तो  Motherboard No display होगा। या फिर  Motherboard ओन  करने पर सीपीयू फैन कुछ पल चलकर बंद हो जाता है।

F. CPU-Fan

सीपीयू फैन कनेक्शन- यह वह जगह है जहां  सीपीयू फैन लगा होता है। cpu fan प्रोसेसर से होने वाली गर्मी को कम करता है।  यह फैन मेटल के सिंक पर लगा होता है।  हो प्रोसेसर की गर्मी को अपने अंदर सोख लेता है।  फिर फैन हवा के द्वारा हीट सिंक को ठंडा कर देता है।  जिससे प्रोसेसर का तापमान कण्ट्रोल में रहता है।

यदि बंद हो जाए या धीरे हो जाए तो प्रोसेसर निश्चित तापमान से ज्यादा गर्म हो जाएगा।  जिससे कंप्यूटर हैंग होने लगता है। और कंप्यूटर बहुत स्लो काम करने लगता है। कई बार कंप्यूटर अपने आप रीस्टार्ट भी होने लगते है। अगर कभी आपके कंप्यूटर में यह समस्या हो तो सबसे पहले मदर बोर्ड में लगे सीपीयू फैन को देखे।

5 आम गलतियां जो आपके मदरबोर्ड को नुकसान पहुंचाएगी या खराब कर देंगी  

G. Socket 

सॉकेट – यह वह जगह है जहां आपका सीपीयू प्लग  होता है।  और उसके ऊपर हीट सिंक और फैन लगाया जाता है।

H. Memory Slot 

मेमोरी स्लॉट – यह आपके रैम के लिए स्लॉट हैं। अधिकांश बोर्डों में 4 स्लॉट होंगे, लेकिन कुछ के पास केवल 2 होगा।  इन स्लॉट में आप रैम को अपनी जरुरत के अनुसार बढ़ा सकते है।

I. ATX Power Connector

एटीएक्स पावर कनेक्टर – यह  बिजली कनेक्शनों का दूसरा स्थान है। यह मदरबोर्ड के लिए मुख्य पावर सोर्स होता  है, और SMPS (Power Supply) से आता है।  यही से VRM Circuit को पावर दिया जाता है। 

J. IDE Connection

आईडीई कनेक्शन – आईडीई (एकीकृत ड्राइव इलेक्ट्रॉनिक्स) आपकी हार्ड ड्राइव या सीडी / डीवीडी ड्राइव के लिए कनेक्शन है। अधिकांश ड्राइव आज SATA कनेक्शन के साथ आते हैं, इसलिए आप इसका उपयोग नहीं कर सकते।

K. Southbridge 

साउथब्रिज – यह पीसीआई स्लॉट, ऑनबोर्ड ऑडियो और यूएसबी कनेक्शन जैसे घटकों को कंट्रोल करता है। यह बायोस के पास बड़ी सी चिप होती है।

L. SATA Connections 

सैटा कनेक्शन – ये  मदरबोर्ड पर 6 एसएटीए कनेक्शनों में से 4 हैं ये हार्ड ड्राइव, और सीडी / डीवीडी ड्राइव के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

डिजिटल कंप्यूटर के बेसिक पार्ट्स : Basic Digital Computer Parts

M. Front Panel Connections 

फ्रंट पैनल कनेक्शन – यह वह जगह है जहां सीपीयू के कैबिनेट के फ्रंट पर लगने वाले बटन जोड़ा जाता है।  जिसमे Start Button, restart  Button, HDD LED, Power LED आदि के तारो को जोड़ा जाता है।

N. FDD Connection 

एफडीडी कनेक्शन – एफडीडी फ्लॉपी डिस्क कनेक्टर  है। यदि आपके कंप्यूटर में आपके पास फ्लॉपी डिस्क ड्राइव है, तो यह वह जगह है जहां आप इसे हुक कर सकते है।

O. External USB Connections 

बाहरी यूएसबी कनेक्शन्स –  यह वह जगह है जहां आप अपने केस या यूएसबी ब्रैकेट के लिए बाहरी यूएसबी कनेक्शन प्लग कर सकते है।

How to Install Dual And More Os in Single Pc or Laptop

P. CMOS battery 

सीएमओएस बैटरी  – यह मदरबोर्ड की बैटरी है यह CMOS को अपनी सेटिंग्स को सेव रखने के लिए जरुरी पावर  देने के लिए उपयोग किया जाता है।  यदि यह बैटरी ख़राब हो जाए या निकल जाए तो CMOS में सेव सेटिंग मिट जाती है।  और Bios Defualt Setting अप्लाई हो जाती है। कभी कभी यह बैटरी के न होने पर मदर बोर्ड  नहीं होता है। what is a motherboard in hindi Definition & Diagram

Read More :

Computer Hardware Book in hindi

Rs. 367
40 new from Rs. 302
Amazon.in
Free shipping
Last updated on May 24, 2018 12:07 am
One Response
  1. saurabh waghulkar April 3, 2018 / Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *