दूसरों के भरोसे काम नहीं होते moral stories in hindi for all

Share:

दूसरों के भरोसे काम  नहीं होते Hindi Moral story apna kaam khud kare 


एक सारसी  एक खेत में अपने बच्चों के साथ रहती थी। और उसी में अपने बच्चों का लालन पालन करते थे। खेत में फसल पकने को है। सारसी  सोचने लगी अभी खेत की कटाई चलेगी। इसलिए यहां  रहना और बच्चों को रखना ठीक नहीं है। परंतु बच्चों ने अभी तक उड़ना नहीं सीखा था। इसलिए उसने और कुछ दिन खेत में रहना ही जरूरी समझा और बच्चों से कहने लगी "देखो "  ........आगे पढ़े 


hindi moral stories for kids,
moral stories in hindi for students, moral stories in hindi for all, moral stories in hindi for with pictures, moral stories in hindi for class 3, short hindi stories with moral , values, hindi short stories, hindi short stories with moral, hindi short stories by munshi premchand, hindi short stories pdf, hindi short stories for class 1, hindi short love stories
hindi short stories for class 3, hindi stories with moral, 
कंप्यूटर हार्डवेयर, मोबाइल, लैपटॉप, प्रिंटर, टिप्स ट्रिक्स, ट्रबलशूटिंग सभी सर्किट की जानकरी डायग्राम इलेक्ट्रॉनिक्स और नेटवर्किंग सर्वर आदि की पीडीऍफ़ बुक के लिए इस लिंक पर क्लिक करे। लेटेस्ट उपदेट्स के लिए फेसबुक पेज और सब्सक्राइब जरूर करे। **************************************************************** Click on this link for pdf book for Computer Hardware, Mobile, Laptop, Printer, Tips Tricks, Troubleshooting All Circuits, Diagram Electronics and Networking Server etc. Facebook page and subscribe to latest updates ************************************************

कोई टिप्पणी नहीं

☻यदि आपकी कोई कंप्यूटर लैपटॉप या मोबाइल से सम्बंधित कोई समस्या है। तो आप मुझे कमेंट कर सकते है।
☻समस्या का जल्दी निवारण किया जायेगा।