Windows Tutorial for Beginners विंडोज जानकारी

विंडोज ज्ञान व जानकारी
Windows for BeginnersMicrosoft Windows एक ऑपरेटिंग सिस्टम प्रोग्राम है।  जो आपके सम्पूर्ण कंप्यूटर की गतिविधियों को सुनिश्चित करने के लिए कंट्रोल करता  है ताकि कंप्यूटर आसानी से, सुचारू रूप और पूरी योग्यता के साथ चले। माइक्रोसॉफ्ट विंडोज के बहुत से वर्जन समय समय पर आते रहते है।  जिसमे विंडोज एक्सपी एक बहुत ही ज्यादा  इस्तेमाल  किया जाने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम था।  था इसलिए क्यूंकि अब विंडोज एक्सपी के ऑपरेटिंग सिस्टम माइक्रोसॉफ्ट ने बनाने बंद कर दिए है।  अब इसके नए वर्जन जैसे विंडोज 7 विंडोज 8.  और विंडो 10 आ गए है।  जोकि बहुत ही अच्छी परफॉरमेंस देने के साथ यूजर को अपनी और आकर्षित करने की पूरी योग्यता रखते है।  आज में आपको विंडोज के ऑपरेटिंग सिस्टम  पर काम या इनको कैसे चलाया जाये इस पोस्ट के द्वारा बताने का पूरा प्रयास करूँगा।  यदपि मैंने सभी चीज़ो को बताने की पूरी कोशिस की है।  फिर भी यदि कुछ छूट जाता है तो आप मुझे कमेंट के द्वारा पूंछ सकते है।

आइये अब जानते है विंडोस के बारे में।


औसत रूप से विंडोज के नए ऑपरेटिंग सॉफ्टवेयर पुराने सिस्टम से ज्यादा तेज़ होते है।
विंडोज को सही तरीके से काम करने के लिए कंप्यूटर में हार्डवेयर की आवश्यकता क्या होती है यह जान लेते है ।

विंडोज एक्सपी  की जरुरत windows Xp  system requirements

Pentium 233-megahertz (MHz) processor or faster (300 MHz तो होना ही चाहिए )
कम से कम  64 megabytes (MB) of RAM (128 MB होना ही चाहिए )
कम से कम 1.5 gigabytes (GB) हार्ड डिस्क में खाली जगह .
CD-ROM या  DVD-ROM drive.

विंडो सात  की जरुरत   windows 7 system requirements

1 gigahertz (GHz) or faster 32-bit (x86) or 64-bit (x64) processor.
1 gigabyte (GB) RAM (32-bit) or 2 GB RAM (64-bit)
16 GB हार्ड डिस्क में खाली जगह (32-bit) or 20 GB (64-bit)
DirectX 9 graphics device with WDDM 1.0 or higher driver

विंडो आठ की जरुरत . १ windows 8 system requirements

Processor: 1 gigahertz (GHz) or faster with support for PAE, NX, and SSE2
RAM: 1 gigabyte (GB) (32-bit) or 2 GB (64-bit)
हार्ड डिस्क में खाली जगह: 16 GB (32-bit) or 20 GB (64-bit)
Graphics card: Microsoft DirectX 9 graphics device  WDDM driver के साथ।

विंडो दस की जरुरत   windows 10 system requirements


Processor: 1 gigahertz (GHz) or faster.
RAM: 1 gigabyte (GB) (32-bit) or 2 GB (64-bit)
हार्ड डिस्क में खाली जगह: 16 GB.
Graphics card: Microsoft DirectX 9 graphics device with WDDM driver.
एक  Microsoft account और  Internet access.

 Windows tutorial for beginners in hindi

विंडो के अवयव Window Components

My Computer → कंप्यूटर के स्क्रीन पर माय कंप्यूटर नाम का एक छोटा सा आइकॉन होता है।  इस आइकॉन को खोलने पर आप सीधे ही कंप्यूटर के सारे ड्राइव को देख सकते है और काम कर सकते है।




My Documents →  इस आइकॉन से आप जहाँ कंप्यूटर पर किये गए सभी कार्यो को सेव करने की जगह पर सीधे तौर पर पहुंच प्रदान करता है।  

Recycle Bin →  कंप्यूटर पर किसी भी फाइल या फोल्डर को जब डिलीट किया जाता है तो वह रीसायकल बिन में पहुंच जाता है।  जिसको आप चाहे तो दुबारा रिस्टोर कर सकते है।  डिलीट की गई फाइल्स को देखने के लिए इस आइकॉन के द्वारा आसानी से जाया जा सकता है।  

My Network Places → इंटरनेट कनेक्शन व शेयर की गई सभी फोल्डर को देखने के लिए इस आइकॉन के द्वारा जाया जा सकता है।

Desktop → यह कंप्यूटर स्क्रीन की पृष्ठ भूमि होती है।  जहा आइकॉन फोल्डर व फाइल को आसानी से खोलने के लिए रखा जाता है।  साथ ही आप इसके बैकग्राउंड में अपनी मन पसंद कोई भी इमेज को लगा सकते है।  


Start Button →  यह एक बटन होता है जिसके द्वारा कंप्यूटर में उपलब्ध सभी प्रोग्राम्स या एप्लीकेशन को खोला जाता है।

Quick Launch Toolbar → यह एक तरह की सुविधा होती है जिसके द्वारा जिन प्रोग्राम को आप ज्यादा उपयोग करते है।  उनको आप अपने सामने रख कर आसानी से पहुंच सकते है।


Taskbar →  कंप्यूटर स्क्रीन के सबसे निचले भाग को विंडोज टास्क बार कहा जाता है।  यहाँ बहुत से बटनों  की एक श्रृंखला होती है।  जो यूजर को काम करने में सुविधा प्रदान करती है।
Clock →  यह कंप्यूटर के दिनाँक  और वर्तमान समय को दर्शाती है।  यह दाई तरह कोने में होती है।
Window →  जब कोई भी प्रोग्राम को खोला जाता है तो सामने एक स्क्रीन उभर कर सामने आती है।  इसी को विंडो कहा जाता है यह आयताकार क्षेत्र की तरह दिखाई पड़ता है।  

Scrollbar → जब किसी विंडो को खोला जाता है यदि उसमें बहुत ज्यादा फाइल और फोल्डर है तो सभी को देखने के लिए एक फ्रेम बन जाता है जिसको ऊपर, नीचे, दाए और बाये कर्सर के द्वारा करके सभी चीज़ो को देखा जाता है।  इसको स्क्रोलबार कहते है।  


Title Bar →  जो विंडो  या कोई प्रोग्राम खुला होता है तो सबसे ऊपर उसका नाम दिखाई देता है। उस जगह को टाइटल बार कहते है।

मुझे आशा है की अभी तक जो भी जानकारी आपको दी गई है वह आपको अच्छी तरह से समझ आ गई होगी।  किन्तु फिर भी आपके मन में कोई प्रश्न है तो आप मुझे कमेंट कर सकते है।  आपका सादर अभिनन्दन है।


आगे पढ़िए →
स्टार्ट बटन पर काम करना। Work on the start button
विंडो को एक जगह से दूसरी जगह ले जाना।  Window to move from one place to another place
विंडो को छोटा और बड़ा करना। To minimize and maximize  the window.
विंडो को बंद करना। Close Window
कंप्यूटर को बंद करना। Shut Down Computer
विंडोज के हेल्प और सपोर्ट के बारे में जानना। Learn about toWindows Help and Support.
डेस्कटॉप का बैकग्राउंड बदला। Change desktop background.
स्क्रीन सेवर को लगाना। Set the screen saver.
स्क्रीम के एपेयेरेन्स को बदलना। Scream change the Appearance.
स्क्रीन रेज्योलूशन  को बदलना। Change Screen Resolution.
तारीख और टाइम सेट करना। Setting the date and time.
डेस्कटॉप थीम को बदलना। Change desktop theme.
माउस सेटिंग को बदलना। Change mouse settings.
फाइल और फोल्डर को वयवस्थित करना। Manage To File and folder. 


Windows ki puri jaankari. window xp, windows, windows 8.1

Read Also:
How to Repair computer Restart Problem
How to Fix Windows Shutdown Problems in hindi
computer hanging problem how to fix
USB or PS2 Keyboard Mouse connector Pinout With Image
Learn In testing electronic components using multimeter
Learn electric current in hindi
Learn In Hindi Capacitor and types
Learn In Hindi Resistor Color Code table
what is semiconductor in hindi
How to Check electronic Component by using Multimeter
Basic Electronics Free Ebook Download 


loading...
Check your domain ranking
..

4 टिप्‍पणियां:

  1. Sir Mere Pc Ka Sound Ic Problam Hai ?
    Mene Sound Internal card Laya Hai Jo Slot Main Bait
    Ta Hai Aur Uske Sath ke Cd Aay HaiTo Sir Aap Mujh ko Kis Trah se Install Karn Hai Btaeye Plez

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. wese to aaj ke pci sound card plug n play waale aate hai kahne ka matlab hai ki unke driver ko install nahi karna padta hai . Intex sound Card, Quantum Ke sound Card.
      lekin bahut se sound card jaise enter ke sound card me sound ic ya sound chip yamaha or crystal ki aati hai unke driver ko install karna padta hai .

      yadi aapke computer me sound card lagane ke baad bhi sound nahi aa raha hai to aapko driver dalne ki jarurat hai joki me likh raha hu

      My Computer ke icon par right click kare → Manage par click kre → Device manager par click kre → sound, Vidoe and game ko expand kare ya phir jaha pile rang ke chinh bana hai ya unknow device par pili error ching bana ho us par right click kre → update driver sofware pr click kre → ab aapke samne do option nazar aayenge ( Browse my computer for driver software ) par click kre → ab browse button par click kr ke computer me jaha driver ki file hai up click kre → next pr click kre → ab close kr de → driver install ho jayega

      comment ke liye dhanywaad

      हटाएं
  2. Is Jankari ke Liye Dil Se Dhanyad
    Mera Whts App No 8888606883
    Name Shaikh Nasir

    उत्तर देंहटाएं
  3. really bhut mahatvapurn jankari hai ye.
    Koi bhi jo windows nhi janta aur use use krna chahta hai vo yha se sb kuchh sikh skta hai.

    Bhut bhut dhnyawad

    My Blog:
    MyTechnode.Com

    उत्तर देंहटाएं

☻यदि आपकी कोई कंप्यूटर लैपटॉप या मोबाइल से सम्बंधित कोई समस्या है। तो आप मुझे कमेंट कर सकते है।
☻समस्या का जल्दी निवारण किया जायेगा।