रोचक टोटके और भविष्यवाणि Intresting FactsTone Totke bhavishyawaani

tantra mantra yantra tone totke  uapaay

  • घर से चलते समय यदि कुत्ता कान फड़के तो कार्य बिगड़ जाता है। ghar se chalte samay yadi kutta kaan phadke to karya bigad jaata hai.

  • सामने की छींक लड़ाई-झगड़े को बतलाती है। पीछे की छींक से सुख से सुख मिलता है। samne ki chhink ladayi-jhagde ko batlati hai. pichhe ki chhink se sukh se sukh milata hai.

  • ऊंची छींक बड़ी ही उत्तम होती है। नीची छींक बड़ी दुखदायिनी होती है और चलते समय अपनी छींक बड़ा दुख देने वाली होती है। unchi chhink badi hi uttam hoti hai. nichi chhink badi dukhdyini hoti hai aur chalte samay apni chhink bada dukh dene wali hoti hai.

  • दाईं तरफ की छींक धन को नष्ट करती है। बाईं तरफ की छींक से सुख मिलता है। dayi taraf ki chheenk dhan ko nasht karti hai. bayi taraph ki chhink se sukh milata hai.

  • तीतर का जोड़ा जब खाने लगता है और बृहस्पति पुष्य नक्षत्र में हो तो उस दिन वर्षा होगी। titar ka joda jab khaane lagta hai aur brhaspati pushy nakshatr mein ho to us din varsha hogee.

  • आलू को सदा कृष्ण पक्ष में बोना चाहिए। aalu ko sada krshn paksh mein bona chaahiye.

  •  एक बादल यदि दूसरे बादल में घुसे तो उसी समय पानी बरसे। ek badal yadi dusare badal mein ghuse to usee samay paani barse.

  • यदि एक ढेले पर बैठकर चील बोले तो भारी वर्षा होगी। yadi ek dhele par baithakar chil bole to bhaari varsha hogi.

  • यदि सावन शुदि (शुक्ला) सप्तमी को आधी रात के समय बादल गरजे और पानी बरसे तो अकाल पड़ेगा। yadi saavan shudi (shukl) saptami ko aadhi raat ke samay baadal garje aur paani barse to akaal padega.

  • चित्रा नक्षत्र की वर्षा प्राय: सारी खेती नष्ट कर देती है। chitra nakshatr ki varsha praayah: saari kheti nasht kar deti hai.

  • जिस वर्ष अक्क खूब फूलता है तो कोदों की फसल अच्छी होती है। नीम के पेड़ में अधिक फूल-फल लगे, तो जौ की फसल अच्छी होती है।  jis varsh akk khub phulta hai to kodon ki fasal achchhi hoti hai. neem ke ped mein adhik phul-phal lage, to jau ki fasal achchhi hoti hai.

  • खस्स की वृद्धि हो तो गेहूं, बेर और चने की फसल अच्‍छी होती है। khas ki vrddhi ho to gehun, ber aur chane ki phasal ach‍chhi hoti hai.

  • यदि एक महीने में दो ग्रहण हो तो राजा या मंत्री की मृत्यु होती है। yadi ek mahine mein do grahan ho to raja ya mantri ki mirtyu hoti hai.
loading...
Check your domain ranking
..

कोई टिप्पणी नहीं

☻यदि आपकी कोई कंप्यूटर लैपटॉप या मोबाइल से सम्बंधित कोई समस्या है। तो आप मुझे कमेंट कर सकते है।
☻समस्या का जल्दी निवारण किया जायेगा।