Ayurvedic Tips (दोहे) Kahawate Hindi Home remedies


आयुर्वेद के देहाती दोहे   कहावतें Ayurved ke Dohe , Dehati Kahawate, Tips
श्वास ( दमा ) Asthma
छोटी पिपली संग सम, पीसे पुस्करमूल।
माशा चाटे शहद सँग, नाशै दमा समूल ।।

भृगराज के स्वरस को, चाटे शहद मिलाय ।
कफ प्प्रकोप के श्वास में , शीघ्र लाभ दरशाय । ।

आक पत्र दो नग धरे, काली  मिरच पचास ।
घोट पीस इक रस करें, वटी  उड़द आभास 1 ।
छै-छै वटिका कुछ दिना, प्रात समय  ले खाय ।
ता पर कोसा जल पिवे, दमा रोग जड़ जाय । ।

हृदय रोग Heart Disease 
अर्जुन  छाल मँगाय के, पचगुन सिता मिलाय ।
तोला नित गो दुग्ध में, निराहार पी जाय । ।
एक शाल विधिवत करे, यही सतत सदुपाय 1
हृदय रोग सब भांति के, रहें समूल नसाय । ।

गाजर खावे पाव भर, प्रातकाल निरहार ।
ह्रदय रोग ने गुन करे, मिटे त्रिदोष विकार । ।

हरड़ सोठ बच पिप्पली, सब का चूर्ण बनाय ।
मात्रा विधि अनुसार ले, रोग हृदय का जाय । ।


पाण्डु रोग ( पीलिया ) Jaundice
कटु तुरई रस काढ़ि के, बूँद  नस्य ले चार।
झरे  नाक के पीत जल, नासै पाण्डु  विकार । ।

पीत हरड़ को लाय के, छाने कूट पिसाय ।
मिश्री वामें पीस के, भाग समान मिलाया
छै छै माशे औषधि, ताजा जल से खाया
कुछ दिन ले दोनों समय, रोग पीलिया जाय । ।


 पुनर्नवा के मूल का, टुकड़ा कर इक्कीस।
करे माल धागा पिरो, पहने  दिन दस बीस । ।
जाको होवे पीलिया, रोग  समूल नसाय ।
स्वास्थ्य लाभ हो जाय तो, धरे वृक्ष पर जाय।  ।

ayurvedic dohe kahawate

मधुमेह Diabetes
जामुन गुठली मिंग औ , सम  पीसे गुडमार ।
जल सँग माशे तीन ले, नित ही साँझ सकार । ।
अति गुणकारी औषधी, सदा सँवारे देह ।
या को विधिवत नित्य ले, मिटे रोग मधुमेह। ।

हरा करेला फल स्वरस , दो तोले कढ़वाय ।
पहले अल्पाहार ले, पीवे नमक मिलाया ।
प्रात: लेवे नियम से, नित्य महीना दोय ।
कष्ट मिटे मधुमेह का, करे अपथ्य न कोय । ।

अनानास कं स्वरस को, रत्ती हल्द मिलाय ।
कुछ दिन ले मधुमेह में , रहे लाम दरशाय । ।


लकवा ( अधरंग ) paralysis
आक पत्र सेंग सिद्ध करि, तेल करे अभ्यंग। 
यत्न सहित कुछ दिन करे, ठीक होय अधरंग  । ।

सोंठ वचा के चूर्ण कॉ, आठ गुने मधु संग ।
छै माशा ले दो समय, जाय रोग अधरंग । ।


गठिया Arthritis
इन्द्रायण की  मूल औ,  सम पिप्पली मिलाय ।
चार टंक नित चूर्ण ले, वात सन्धिगत जाय । ।

ताजा बथुआ लाय के, लेवे स्वरस कढाय ।
नित पीवे तोला सवा, जाये गठिया बाय । ।
 

सफ़ेद दाग White spot
बीज मैंगावे वाकूची, चूरण  करे पिसाय ।
त्रय माशा ले दो समय, श्वेत दाग  मिट जाय । ।

ज्योतिमती औ बाबची, तेल समान मिलाय ।
श्येत दाग पर मलि रहे, कुछ दिन ने मिट जाय । ।

माशा नरियल तेल में ,  दे नोसादर चूर्ण ।
श्वेत दाग  लेपन करे, मिटे दाग सम्पूरण  । ।


कैंसर Cancer
केवल गाजर स्वरस ले, खान-पान  बिसराय ।
नौ महिना की अवधि में, रक्त केंसर जाय । ।

पौध उगाई गेहूँ की, नो दिन की  जब होय ।
देवे पीस निचोड़ के रोगी पीवे सोय।
जाके तन हो केंसर, दुग्ध भात ले पथ्य।
तीन महीना नित्य ले, होवे लाम अकथ्य। ।


उच्च रक्तचाप High blood pressure
तीन मील घूमा करे, प्रात: नंगे पैर ।
रक्तचाप होवे नहीं, हृदय रोग  से खैर । ।

बासी रोटी गेहूं की,  भिगो दूध में खाय। 
उच्च रक्त के चाप में, शीघ्र लाभ दरसाय ।

तोला ब्राह्मी पत्र रस, पीवे सॉझ-सकार । .
उच्च रक्त के चाप में , जल्दी होय सुधार । ।


 लेखक → श्याम सुन्दर शर्मा 'साक्षी' 
 Gharelu Ayurvedic Nuskhe, Desi kahawato/jumle,  Dadi Ma Ke Nuskhe


loading...
Check your domain ranking
..

कोई टिप्पणी नहीं

☻यदि आपकी कोई कंप्यूटर लैपटॉप या मोबाइल से सम्बंधित कोई समस्या है। तो आप मुझे कमेंट कर सकते है।
☻समस्या का जल्दी निवारण किया जायेगा।