How to voltage regulator module (VRM) circuit वीआरएम

वीआरएम सर्किट में मॉस्फेट COIL, CAPACITOR के द्वारा एसएमपीएस से मिलने वाली 12 VOLT  की सप्लाई को बूस्ट करके उसका रेक्टिफिकेशन के द्वारा DC में कन्वर्ट  सप्लाई को फ़िल्टर करके सीपीयू को कोर वोल्टेज देता है। 

आइये जानते है की वीआरएम सर्किट  कैसे काम करता है।  

इस सर्किट में एक चार पिन का सॉकेट होता है।  जिस पर एसएमपीएस से आने वाली  पीली और काली वायर के कनेक्टर को लगाते है।  इस पीली तार में DC 12 VOLT होता है।  इस सप्लाई को EMI COIL के द्वारा मैन मॉस्फेट के ड्रेन को दी जाती है।  मैन मॉस्फेट के गेट पर वीआरएम आईसी   के द्वारा सिग्नल दिए जाते  है, जिससे मॉस्फेट ओन होकर स्विचिंग  करता है।  सपोर्टिंग मॉस्फेट के सोर्स को ग्राउंड किया जाता है।    मैन मॉस्फेट के सोर्स को सपोर्टिंग मॉस्फेट के  GATE से जोड़ा जाता है।  मैन मॉस्फेट के सोर्स  और सपोर्टिंग मॉस्फेट के गेट को मिलकर एक पॉइंट बनता है।  इस पॉइंट से COIL के द्वारा सप्लाई को बूस्ट किया किया जाता है और कपैसिटर से फ़िल्टर व स्टोर करके सीपीयू को कोर वोल्टेज देते है।   देखे चित्र :

VRM CIRCUIT REPAIR TIPS IN HINDI

वीआरएम चिप आईसी  एक प्रोग्रामेबल IC  होती है जो सीपीयू वाल्ट को सेंस  करके उसी के मुताबिक सिग्नल मॉस्फेट को देती है।  जिससे मॉस्फेट उसी हिसाब से स्विचिंग करते है।
मदरबोर्ड में लगाये जाने वाले सीपीयू के वर्किंग वाल्ट अलग अलग होते है।  प्रोसेसर बदलने  पर  वीआरएम आईसी  अपने आप उसके वाल्ट को सेंस कर लेती है। 
बहुत से मदरबोर्ड में जम्पर सेटिंग के द्वारा सीपीयू वाल्ट को सेट करना पड़ता है। 

यह वीआरएम आईसी, I/O  चिप से जुडी होती है जैसे ही मदरबोर्ड को ओन करते है।  यह ट्रिगर सर्किट के द्वारा ओन होकर काम करने लगता है.
वीआरएम  सेक्शन के ख़राब होने पर मदरबोर्ड में  नो डिस्प्ले की प्रॉब्लम होती है। 

VRM CIRCUIT को कैसे रिपेयर करे। इस circuit के ख़राब होने का पता कैसे लागए आगे पढ़े.....

नीचे वीडियो में VRM सेक्शन के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताया गया है वीडियो देखे यदि आपको वीडियो पसंद आये तो LIKE करना न भूले।  यदि आप  कंप्यूटर लैपटॉप रिपेयरिंग के बारे में और ज्यादा जानकारी चाहते है ,
तो इस लिंक पर जाकर YOUTUBE SUBSCRIPTION  जरूर करे।




SMPS upcoming 12-volt supply to the CPU core voltage by boosting gives by Mosfet,capacitor and coils.

If Vrm section is faulty in the motherboard is Show no display problem .

Let us know, the Vrm circuit How to works.

The voltage regulator module (VRM) circuit is a four-pin socket. The yellow and black wire from SMPS connector is put. The yellow wire is the DC 12 VOLT. The supply by EMI COIL Main Mosfet is provided to the drain. Main Mosfet gate.  Given  the signal main mosfet gate from  programmable vrm chip ic . according to upcoming signal mosfet are switching. 
 Supporting mosfet  source is  ground . Man Mosfet GATE is connected to the source of the Supporting Mosfet. 

Main mosfet source coupled to the gate of the Mosfet supporting a point is made. The point is to boost the supply by COIL And capacitors is filtered and stored to the CPU core voltage.
View picture:
vrm chip IC is a programmable IC. The CPU Volt sensing circuit made in vrm ic chip.  Mosfet gives the signal accordingly. Thereby switching Mosfet is accordingly. Working Volt liveable in motherboard CPU are different.  Changing processor Vrm IC automatically picks her volt sense.
Many  motherboard has to jumper settings on set by the CPU Volt.
The I / O chip IC is connected Vrm ic. As soon as the motherboard is powered on.
 Own by the trigger circuit and seem to work. 





loading...
Check your domain ranking
..

कोई टिप्पणी नहीं

☻यदि आपकी कोई कंप्यूटर लैपटॉप या मोबाइल से सम्बंधित कोई समस्या है। तो आप मुझे कमेंट कर सकते है।
☻समस्या का जल्दी निवारण किया जायेगा।