Menu

Learn In Hindi Resistor Color Code table

What is Resistance and types of Resistor

प्रकृति में पाए जाने वाला हर पदार्थ विधुत धारा को प्रभावित करता हैं।
पदार्थ का वह गुण जो करंट के मार्ग में बाधा उत्पन्न करता हैं।  या करंट के बहाव का विरोध करता हैं,रजिस्टेंन्स कहलाता हैं।

रजिस्टेंन्स को “R” या “E” से प्रदर्शित किया जाता हैं।

रजिस्टेंन्स को ओह्म में नापा जाता हैं।

प्रकृति में पाए जाने वाले हर पदार्थ का अपना-अपना रजिस्टेंन्स होता है।  कोई करंट का कम तथा कोई करंट का ज्यादा विरोध करता है

जबकि कोई ताप व प्रकाश भी उत्पन्न करते हैं।  प्रतिरोधी पदार्थों को उनके गुण व प्रतिरोधों के मन हिसाब से विभिन्न बिजली उपकरणों में विभिन्न उपयोगों के लिए काम में लाये जाते हैं।

कुछ पदार्थ जिनसे रजिस्टेंन्स के तौर पर उपयोग में लाया जाता हैं।


1.कार्बन
2.मैगनीन
3.यूरेका
4.नाईक्रोन
5.टंगस्टन

किसी पदार्थ के रजिस्टेंन्स की निर्भरता

किसी भी चालक का रजिस्टेंन्स मुख्य रूप से तीन बातों पर निर्भर करता हैं।
1. चालक तार की लंबाई
2. चालक तार की मोटाई
3. चालक तार का तापमान

रजिस्टेंन्स के प्रकार
1. कार्बन रजिस्टेंन्स
2. वायर वाउण्ड रजिस्टेंन्स
3. वेरिएबल रजिस्टेंन्स
4. फिक्स रजिस्टेंन्स
5. प्रिसेट रजिस्टेंन्स
6. टेप्ड रजिस्टेंन्स
7. चिप रजिस्टेंन्स
8. नेटवर्क रजिस्टेंन्स
9. थर्मिस्टर
10.वोल्टेज डिपेंडेंट रजिस्टेंन्स
11.लाईट डिपेंडेंट रजिस्टेंन्स

 

Resistor Color Code

कार्बन रेजिस्टेंस का मान मालुम करना।

  • रेजिस्टेंस का प्रयोग करंट को कम करने के लिए किया जाता। रेजिस्टेंस का मान उसके ऊपर कलर के रूप में अंकित होता हैं।
  • रेजिस्टेंस के ऊपर मुख्यत: रंगों की चार,पाँच,या छ: रंगों की धारियां बनी होती हैं। इन्ही रंगों के मान के हिसाब से रेजिस्टेंस की वैल्यू निकलते है।
  • अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक कलर कोड प्रणाली का प्रयोग रेजिस्टेंस के मान जानने के लिए किया जाता हैं। इसमे 0 से 9 तक की संख्या के लिए कलर फिक्स्ड होते हैं जो की नीचे बताया गया हैं ।

 

resistor ka color code malum karna

International Level मुख्यता 10 रंग होते हैं।

तो आइये समझते रेजिस्टेंस का मान पता कैसे करते है

कलर कोड Color Code

  1.  Black काला —— 0
  2. Brown भूरा —— 1
  3. Red लाल —— 2
  4. Orange नारंगी —— 3
  5. Yellow पीला —— 4
  6. Green हरा —— 5
  7. Blue नीला —— 6
  8. Violet बैग्नी —– 7
  9. Gray स्लेटी —– 8
  10. White सफ़ेद —- 9

_____________________________________________________

Tolerance

_________________________________________________

Silver सिल्वर 0.1 +/-5%
Golden गोल्डन 0.01 +/-10%
No Color कोई रंग नहीं ___ +/-20%
किसी भी कार्बन रेजिस्टेंस में तीन से छ: Band या धारियाँ होती है।

पहली Band की पहचान

color code of resistance

 

  1. रेजिस्टेंस के सिरे के सबसे नजदीकी धारी को पहला Band कहते है।
  2. पहली धारी में कभी भी काला ,गोल्डन या सिल्वर रंग नहीं आता हैं।
  3. गोल्डन या सिल्वर रंग हमेशा पहले दो रंग के बाद ही होते हैं ।
  4. किसी भी रेजिस्टेंस में कम से कम 3 और ज्यादा से ज्यादा 6 रंग होते हैं ।
  5. चार रंग की रेजिस्टेंस में पहले तीन रंग रेजिस्टेंस की मान जानने के लिए काम में आते हैं ।
  6. रेजिस्टेंस में पहले दो रंग की संख्या ज्यो की त्यों लिखी जाती हैं।
  7. रेजिस्टेंस में तीसरा रंग की जितने अंक का होता है उतने शून्य पहले दो रंगों के अंको के बाद लगते हैं ।
  8. इस तरह जो संख्या प्राप्त होती हैं। यही रेजिस्टेंस का मान (value)होती है। जिसे ओह्म (Ω )में मापा जाता हैं।
  9. यदि यह संख्या या से ज्यादा है। तो उसमे १००० का भाग देकर (mΩ ) बनाते हैं।
  10. यदि गोल्डन या सिल्वर कलर रेजिस्टेंस में अंतिम Band में हो तो वह रेजिस्टेंस का टॉलरेंस (tolerance)होता हैं
2 Comments
  1. funny girls video February 17, 2017 / Reply
  2. DEVASHISH DEY November 20, 2017 / Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *